उत्तर-प्रदेशनई दिल्लीबड़ी खबरलखनऊ

प्रदेश की 08 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में 19 अप्रैल को होगा मतदान

कुल मतदाताओं की संख्या 1,44,01,543 है, जिसमें पुरुष 76,54,658, महिला 67,46,136 तथा थर्ड जेन्डर 749 हैं

लखनऊ : प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी, नवदीप रिणवा ने गुरुवार को मुख्य निर्वाचन अधिकारी, कार्यालय के सभागार कक्ष में लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 के प्रथम चरण की 08 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में 19 अप्रैल को होने वाले मतदान की तैयारियों के सम्बन्ध में प्रेसवार्ता कर जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि प्रदेश के 08 लोक सभा निर्वाचन क्षेत्रों यथा 1-सहारनपुर, 2-कैराना, 3-मुजफ्फरनगर, 4-बिजनौर, 5-नगीना(अ0जा0), 6-मुरादाबाद, 7-रामपुर तथा 26-पीलीभीत में 19 अप्रैल, 2024 को मतदान होगा। मतदान प्रातः 7.00 बजे से शुरू होकर सायं 6.00 बजे तक चलेगा। उक्त निर्वाचन क्षेत्र 09 जनपदों, यथा-सहारनपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, मुरादाबाद, रामपुर, पीलीभीत तथा बरेली जनपद में अवस्थित हैं। 08 लोक सभा निर्वाचन क्षेत्रों के रिटर्निंग आफिसर क्रमशः जिलाधिकारी, सहारनपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, मुख्य विकास अधिकारी, बिजनौर, जिलाधिकारी, बिजनौर, मुरादाबाद, रामपुर तथा पीलीभीत अधिसूचित हैं। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव हेतु व्यापक इंतजाम एवं सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कराई गई है।

लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 के हेतु प्रथम चरण के 08 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों से कुल 80 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े है। कुल मतदाताओं की संख्या 1,44,01,543 है, जिसमें पुरुष 76,54,658, महिला 67,46,136 तथा थर्ड जेन्डर 749 है। इस निर्वाचन क्षेत्र में 14,845 मतदेय स्थल है।
लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 01-सहारनपुर से 10 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े है। कुल मतदाताओं की संख्या 18,55,310 है, जिसमें पुरुष 9,80,096, महिला 8,75,131 तथा थर्ड जेन्डर 83 है। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1926 मतदेय स्थल है।
लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 02-कैराना से 14 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े है। कुल मतदाताओं की संख्या 17,22,432 है, जिसमें पुरुष 9,21,832, महिला 8,00,504 तथा थर्ड जेन्डर 96 है। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1750 मतदेय स्थल है।
लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 03-मुजफ्फरनगर से 11 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े है। कुल मतदाताओं की संख्या 18,17,472 है, जिसमें पुरुष 9,68,869, महिला 8,48,460 तथा थर्ड जेन्डर 143 है। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1698 मतदेय स्थल है।
लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 04-बिजनौर से 11 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े है। कुल मतदाताओं की संख्या 17,38,307 है, जिसमें पुरुष 9,23,530, महिला 8,14,693 तथा थर्ड जेन्डर 84 है। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1837 मतदेय स्थल है।
लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 05-नगीना(अ0जा0) से 06 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े है। कुल मतदाताओं की संख्या 16,44,909 है, जिसमें पुरुष 8,72,364, महिला 7,72,485 तथा थर्ड जेन्डर 60 है। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1788 मतदेय स्थल है।


लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 06 मुरादाबाद से 12 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े है। कुल मतदाताओं की संख्या 20,59,578 है, जिसमें पुरुष 10,93,392, महिला 9,66,103 तथा थर्ड जेन्डर 83 है। इस निर्वाचन क्षेत्र में 2133 मतदेय स्थल है।
लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 07-रामपुर से 06 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े है। कुल मतदाताओं की संख्या 17,31,836 है, जिसमें पुरुष 9,15,998, महिला 8,15,678 तथा थर्ड जेन्डर 160 है। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1789 मतदेय स्थल है।
लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 26-पीलीभीत से 10 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े है। कुल मतदाताओं की संख्या 18,31,699 है, जिसमें पुरुष 9,78,577, महिला 8,53,082 तथा थर्ड जेन्डर 40 है। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1924 मतदेय स्थल है।
प्रथम चरण में मतदाताओं की संख्या की दृष्टि से सबसे अधिक मतदाता 06-मुरादाबाद तथा सबसे कम मतदाता 05-नगीना(अ0जा0) लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में हैं। 08 लोक सभा निर्वाचन क्षेत्रों में कुल 80 प्रत्याशी मैदान में हैं, जिनमें 07 महिला प्रत्याशी हैं। लोक सभा सामान्य निर्वाचन 2024 के प्रथम चरण में सबसे अधिक 14 अभ्यर्थी 02-कैराना लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र में हैं तथा सबसे कम अभ्यर्थी 05-नगीना(अ0जा0) एवं 07-रामपुर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र में हैं, जहां 06-06 अभ्यर्थी हैं। प्रथम चरण के चुनाव में कुल 14,845 मतदेय स्थल (पोलिंग बूथ) तथा 7,693 मतदान केन्द्र हैं। उक्त मतदेय स्थलों में से 3571 क्रिटिकल है।
मतदान पर सतर्क दृष्टि रखने के लिए आयोग द्वारा 08 सामान्य प्रेक्षक, 05 पुलिस प्रेक्षक तथा 10 व्यय प्रेक्षक भी तैनात किये गये हैं। उक्त के अतिरिक्त 1272 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 150 जोनल मजिस्ट्रेट, 103 स्टैटिक मजिस्ट्रेट तथा 1861 माइक्रो ऑब्जर्वर भी तैनात किये गये हैं। चुनाव प्रक्रिया को सम्पन्न कराने के लिए 4083 भारी वाहन, 5058 हल्के वाहन तथा 65380 मतदान कार्मिक लगाये गये हैं। चुनाव में मतदान के लिए 18662 ईवीएम की कन्ट्रोल यूनिट, 18734 बैलट यूनिट तथा 19603 वी0वी0पैट तैयार किये गये हैं।
चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने हेतु पर्याप्त मात्रा में अर्द्ध सैनिक बलों की तैनाती की गई है। स्ट्रांग रूम की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी अर्द्ध सैनिक बलों को दी गयी है। प्रथम चरण के निर्वाचन के दौरान अर्द्ध सैनिक बलों/पुलिस बलों के व्यवस्थापन के दृष्टिगत आकस्मिकता की स्थिति में मेडिकल सहायतार्थ एयर एम्बुलेंस एवं हेलीकाप्टर की व्यवस्था भी की गयी है। हेलीकाप्टर की लोकेशन 18 व 19 अप्रैल, 2024 को मुरादाबाद में तथा एयर एम्बुलेंस की लोकेशन 19 अप्रैल, 2024 को बरेली में रहेगी। 50 प्रतिशत मतदेय स्थलों पर (7582 मतदेय स्थल) लाइव वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गयी है, जिसका पर्यवेक्षण जिला निर्वाचन अधिकारी, मुख्य निर्वाचन अधिकारी एवं भारत निर्वाचन आयोग तीनों स्तरों पर किया जायेगा। उक्त के अतिरिक्त 1510 मतदेय स्थलों पर वीडियोग्राफी की भी व्यवस्था की गई है।
प्रथम चरण में कुल 111 आदर्श मतदेय स्थल, 45 समस्त महिला प्रबंधित मतदेय स्थल, 36 समस्त युवा कर्मी मतदेय स्थल तथा 32 समस्त दिव्यांग प्रबंधित मतदेय स्थल बनाये गये हैं। मतदेय स्थलों पर जो मतदाता सायं 6.00 बजे उपस्थित रहेंगे, उन मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग किया जा सकेगा।
भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जिला निर्वाचन अधिकारी के माध्यम से वोटर इन्फार्मेशन स्लिप निर्वाचकों को वितरित करायी गयी है, जिसके माध्यम से उन्हें अपने वर्तमान मतदेय स्थल एवं क्रम संख्या की जानकारी हो सकेगी। प्रथम चरण में कुल 1,42,96,852 (99.27 प्रतिशत) मतदाताओं को वोटर स्लिप वितरित की गयी है। इसके अतिरिक्त मतदाता वोटर हेल्पलाइन एप, भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाइट के माध्यम से भी अपने मतदेय स्थल की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
मतदाताओं की सुविधा हेतु वोटर गाइड का भी वितरण किया गया है। प्रथम के जनपदों में 28,44,953 वोटर गाइड वितरित की गयी है। प्रथम चरण के जनपदों में 27 अक्टूबर, 2023 से 16 अप्रैल, 2024 तक कुल 11,79,051 मतदाता फोटो पहचान पत्र वितरित कराये गये हैं। मतदान की अवधि में सभी बी0एल0ओ0 को निर्देश दिये गये हैं कि वे एल्फाबेटिक लोकेटर मतदाता सूची के साथ हेल्पडेस्क पर उपस्थित रहेंगे एवं आने वाले मतदाताओं की सहायता करेंगे। पीडब्ल्यूडी मतदाताओं के लिए मतदान केन्द्रों पर व्हील चेयर एवं जगह-जगह पर वॉलन्टियर की व्यवस्था की गयी है, जो कि पीडब्ल्यूडी मतदाताओं की सहायता के लिए उपलब्ध रहेंगे।
भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशों के क्रम में मतदाता फोटो पहचान पत्र के अतिरिक्त 12 अन्य पहचान पत्र(यथा-आधार कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, बैंकों/डाकघरों द्वारा जारी किये गये फोटोयुक्त पासबुक, श्रम मंत्रालय की योजना के अन्तर्गत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, एनपीआर के अन्तर्गत आरजीआई द्वारा जारी किये गये स्मार्ट कार्ड, भारतीय पासपोर्ट, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, केन्द्र/राज्य सरकार/लोक उपक्रम/पब्लिक लिमिटेड कम्पनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किये गये फोटोयुक्त सेवा पहचान पत्र, सांसदों/विधायकों/विधान परिषद सदस्यों को जारी किये गये सरकारी पहचान पत्र और यूनिक डिसएबिलिटी आईडी (यूडीआईडी) कार्ड, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार) मतदेय स्थल पर मतदाताओं की पहचान किये जाने हेतु मान्य होंगे।
मतदान प्रतिशत की जानकारी 2-2 घण्टे पर मीडिया को प्रेषित की जायेगी। उक्त के अतिरिक्त वोटर टर्नआउट एप एवं मुख्य निर्वाचन अधिकारी उत्तर प्रदेश के सोशल मीडिया हैण्डलस् पर भी उपलब्ध रहेगी। मतदान से संबंधित कोई भी शिकायत 18001801950 पर काल करके दर्ज करायी जा सकती है। उक्त के अतिरिक्त सी-विजिल, एन0जी0एस0पी0/वी0एच0ए0 पर भी शिकायतें दर्ज करायी जा सकती है।
प्रथम चरण में सी-विजिल पर 16 मार्च, 2024 से 18 अप्रैल, 2024 तक कुल 448 शिकायतें दर्ज हुई हैं। उनमें 264 शिकायतें सही पायी गयी हैं तथा 184 शिकायतें गलत पायी गयी है। कुल 264 सही शिकायतों में से 233 शिकायतें 100 मिनट की नियत समयावधि में निस्तारित की गयी हैं। अभी तक पूरे प्रदेश में शिकायत निस्तारणों का औसत समय 41 मिनट है, जो कि नियत समयावधि 100 मिनट से कम है। प्रथम चरण में 16 मार्च, 2024 से 17 अप्रैल, 2024 तक 9 करोड़ 72 लाख रुपये की कीमत की शराब, नकदी व ड्रग आदि जब्त की गयी।

Cherish Times

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button