राष्ट्रीय

‘द कश्मीर फाइल्स’ देखकर लौट रहे बीजेपी सांसद पर हमला, गाड़ी पर फेंका बम

पश्चिम बंगाल में राजनीतिक रंजिश खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. अभी हाल ही में संपन्न हुए निकाय चुनाव में राज्य से हिंसा की कई खबरें सामने आई थी. वहीं, अब पश्चिम बंगाल के राणाघाट से बीजेपी सांसद जगन्नाथ सरकार पर बम से हमला किया गया है. चूंकि, यह हमला उस वक्त हुआ जब सांसद ‘कश्मीर फाइल्स’ फिल्म देखकर लौट रहे थे. जहां पर बीते शनिवार को उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी कार पर बम फेंका गया था जब वह फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ देखकर लौट रहे थे. इस दौरान वापस जाते समय मेरी कार पर एक बम फेंका गया, हम उससे (बम) बाल-बाल बच गए. हालांकि, सरकार ने दावा किया कि वह अप्रिय घटना से बच गए, क्योंकि कार की गति तेज थी और बम उसकी कार के पीछे जा गिरा.

दरअसल, अपने ऊपर हुए बम से हमले की जानकारी देते हुए बीजेपी सांसद ने बताया कि, “मैं द कश्मीर फाइल्स फिल्म देख कर लौट रहा था. मेरी कार पर एक बम फेंका गया था, हम इसमें बाल-बाल बच गए. हमने देखने के लिए कार को थोड़ी दूर बाहर निकाला, इस घटना के 10 मिनट के बाद पुलिस आई. बता दें कि इससे पहले जगन्नाथ सरकार ने आरोप लगाया था कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म पश्चिम बंगाल में राजनीति का शिकार हो रही है.वहीं अब उन पर हमले की खबर सामने आई है.

बीजेपी सांसद पर बम से हमला

सांसद की गाड़ी के पीछे बम फटा

वहीं, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सांसद की गाड़ी के पीछे बम फटा है. ऐसे में गनीमत ये रही कि बड़ा हादसा होने से टल गया. हालांकि इस हमले में गाड़ी में हल्का नुकसान होने की खबर है. वहीं बीजेपी सांसद जगन्नाथ सरकार की ओर से थाने में शिकायत दर्ज कराने की भी सूचना मिल रही है.

बंगाल में कोई भी नहीं है सुरक्षित- बीजेपी MP

बता दें कि BJP सांसद ने दावा किया कि ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली पश्चिम बंगाल सरकार में कानून-व्यवस्था की स्थिति बिगड़ गई है. ऐसे में लोकतंत्र को बचाने के लिए राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा, “बंगाल में कोई भी सुरक्षित नहीं है क्योंकि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति खराब हो गई है. राज्य सरकार ने लोकतंत्र को गिरा दिया है. उन्होंने कहा, “राज्य में मौजूदा स्थिति (बिगड़ती कानून व्यवस्था) को रोकने के लिए अनुच्छेद 356 (राष्ट्रपति शासन) लगाया जाना चाहिए/ अन्यथा, यह नहीं रुकेगा.

फिल्‍म ‘द कश्‍मीर फाइल्‍स’ आई विवादों के घेरे में

गौरतलब है कि फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ 11 मार्च को रिलीज होने के बाद से ही विवादों में घिर गई है. इस पर बीजेपी और विपक्षी दलों के परस्पर विरोधी विचार हैं. हालांकि, यह साल 1990 में कश्मीरी पंडितों के नरसंहार के इर्द-गिर्द घूमती है और इसका निर्देशन विवेक अग्निहोत्री ने किया है, जिन्हें ‘ताशकंद फाइल्स’, ‘हेट स्टोरी’ और ‘बुद्धा इन ए ट्रैफिक जाम’ जैसी फिल्मों के लिए जाना जाता है.

Cherish Times

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button